Saturday, February 24, 2024
Google search engine
Homeछत्तीसगढ़सरकार चाहती है प्रदेश का युवा नशे की गिरफ्त से बाहर न...

सरकार चाहती है प्रदेश का युवा नशे की गिरफ्त से बाहर न हों

रायपुर – भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश उपाध्यक्ष लक्ष्मी वर्मा ने कहा है कि आज का युवा नशे में पूरी तरह डूब चुका है. शनिवार को आधी रात जोरा, तेलीबांधा के पास नेशनल हाई-वे पर नशे में धुत्त युवक–युवतियों के बीच हुई जमकर झड़प की घटना से जाहिर है कि पूरे प्रदेश में नशे का जाल फैला हुआ है और प्रदेश में 24 घंटे नशा उपलब्ध है. ऐसी ही एक घटना रायगढ़ की भी है. आज रायगढ़ में भी नशे के इंजेक्शन जप्त हुए हैं छत्तीसगढ़ में शराब के साथ-साथ सुखा नशा भी अपना पैर पसार रहा है युवाओं को अपने शिकंजे में ले चुका है.उन्होंने सवाल किया कि छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार आखिर चाहती क्या है?
भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष वर्मा ने कहा कि आज छत्तीसगढ़ की बहन बेटियां समझ नहीं पा रही है,अवैध शराब सरकार के संरक्षण में बिक रही है. मुख्यमंत्री के खास मेयर के भाई अनवर और ढिल्लन की याचिका को आज कोर्ट ने खारिज किया है, इससे स्पष्ट है कि ईडी ने पुख्ता प्रमाण दिया है कि छत्तीसगढ़ में अवैध शराब बेची जा रही है, जिससे यहां की जनता परेशान है,कांग्रेस की सरकार ने कोरोना काल में भी शराब को घर-घर पहुंचाने का काम किया है.

क्वांटिफिएबल डाटा आयोग की रिपोर्ट प्रस्तुत नहीं की और आज जातिगत जनगणना का राग अलाप रहे है:प्रदेश उपाध्यक्ष लक्ष्मी वर्मा ने कहा कि भूपेश बघेल बहुरुपिया चरित्र के नेता हैं और ऐसा नेता कांग्रेस में ही हो सकता है. भूपेश ने सदन में आरक्षण देने का दिखावा करते हुए कहा था कि इसका आधार क्वांटिफिएबल डाटा आयोग की रिपोर्ट है, भाजपा भी चाहती थी कि वंचित वर्ग को उसका अधिकार मिले इसलिए उसने सदन में आरक्षण का समर्थन किया परंतु भूपेश बघेल नहीं चाहते हैं कि आरक्षण मिले.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments