Friday, February 23, 2024
Google search engine
Homeछत्तीसगढ़नतीजों से पहले कांग्रेस को सता रहा आपरेशन लोटस का डर, सभी...

नतीजों से पहले कांग्रेस को सता रहा आपरेशन लोटस का डर, सभी 90 प्रत्याशी पीसीसी में तलब

रायपुर – छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के लिए मतदान का खत्म होते ही कांग्रेस को आपरेशन लोटस का डर सताने लगा है। शुक्रवार देर शाम कांग्रेस की प्रदेश प्रभारी सैलजा कुमारी दिल्ली से सीधे रायपुर पहुंची। आज शनिवार को कांग्रेस मुख्यालय में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की मौजूदगी में अगली सरकार के गठन को लेकर चर्चा हो गई।

आज कांग्रेस भवन में विधानसभा के सभी 90 प्रत्याशियों को तलब कर उनसे पार्टी के प्रदर्शन और चुनाव जीतने की संभावनाओं पर बारी बारी से ​फीडबैक लिया जा रहा है। पीसीसी की प्रभारी कुमारी सैलजा प्रत्याशियों के साथ वन टू वन चर्चा कर रही है। मतदान संपन्न होने के ठीक दूसरे दिन कांग्रेस प्रत्याशियों की इस बैठक के कई मायने निकाले जा रहे हैं।

कांग्रेस प्रत्याशियों की बैठक के पीछे एक तर्क भी सामने आया है कि शायद पार्टी प्रत्याशियों से फीडबेक लेकर जीत हासिल करने वाली सीटों की संख्या के बारे में अनुमान लगाया जा सकता है। वहीं इस बैठक को लेकर दूसरी राय यह भी है कि, पार्टी भविष्य की रूपरेखा बनाने में जुट गई है।

कहा जा रहा है कि स्पष्ट बहुमत नहीं आने पर पार्टी को ‘आपरेशन लोटस’ से बचाने के लिए इस बैठक काफी अहम माना जा रहा है। हालांकि कांग्रेस की ओर से इस बार 75 प्लस का नारा दिया गया है, मगर मतदाताओं की खमोशी से कांग्रेस नेतृत्व के कान खड़े कर दिए है।

पार्टी के सभी प्रत्याशियों की बैठक के संबंध में राजीव भवन में मौजूद पीसीसी चीफ दीपक बैज ने कहा है कि, पूरे प्रदेश से कांग्रेस के पक्ष में फीडबैक मिल रहा है। आज की बैठक के बारे में उन्होंने कहा कि, प्रत्याशियों से आगे की रणनीति पर चर्चा की जा रही है। बैज ने ये भी कहा कि, BJP और कांग्रेस में यही अंतर है, हम धान खरीदते हैं और BJP विधायक खरीदने की कोशिश।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments